योग पर निबंध । Essay on Yoga in Hindi

योग क्रिया का जन्म हिंदू धर्म से हुआ है, ये एक क्रिया है जिसके माध्यम से मानसिक व शारिरीक विकाश किया जा सकता है, इस लेख मे हम योग पर निबंध पढेंगे (Essay on Yoga in Hindi), अगर लेख से आपको जानकारी मिलती है तो कमेंट मे सुझाव देना ना भूले, आइये जानते है हमारे जीवन मे योगा का क्या महत्व है।

योगा का पर्यायवाची – योग, व्यायाम, आसन , अभ्यास, योग क्रिया ,प्राणायाम ( Yoga par Nibandh)

योगा के महत्व पर निबंध
(Essay on importance of yoga in hindi )

योग एक क्रिया है, योग का अर्थ जुडने से है, ये एक ऐसी प्रणाली है, जो मनुष्य को स्वास्थ्य व तंदुरुस्त रखने में सक्षम है योग की उपज हिंदू धर्म से हुआ है जो की 5000 वर्ष पूराना है इसके विषय में ऋषि मुनियों द्वारा हिंदू ग्रंथों (ऋग्वेद) में विस्तार से व्याख्यान किया गया है, ये एक एसी क्रिया है जिसके माध्यम से जीवन को सम्पूर्ण बनाया जा सकता है, मन को शांत व स्थिर किया जा सकता है, शारीरिक व मानसिक विकाश करना योग का मुख्य कार्य है। भारत जैसे आध्यात्मिक देश में  योग क्रिया का प्रचलन हजारों वर्ष पुराना है जहाँ पहले के गुरुकुलों में शिक्षक के द्वारा योग क्रिया का अभ्यास करना अनिवार्य माना जाता था आज वो प्रथा लुप्त हो गई, लेकिन समाज धीरे- धीरे योग का महत्व समझ रही , और अपने दैनिक जीवन में योग क्रिया को उतार रही है, योग को मूलतः चार भागो में बाटा गया है , जैसे- 1. कर्म योग 2. भक्ति योग 3. ज्ञान योग 4. क्रिया योग  

योग के फायदे (Benefits of yoga in Hindi)

योग क्रिया के अनगिनत फायदे है, योग क्रिया से शरीर के सभी बीमारियों का इलाज किया जा सकता है, माना जाता है की इस आधुनिक युग में जिस बीमारी का इलाज सम्भव नहीं उसे भी योग व ध्यान के माध्यम से किया जा सकता है, ( ध्यान क्रिया है), योगा को कई नामो से जाना जाता है जैसे- व्यायाम, अभ्यास, आसन इत्यादि

योग क्रिया प्राकृतिक औषधि का रुप है जिसके करने से शरीर स्वस्थ व ऊर्जावान होता है, योग के नियमित अभ्यास से मन को शांत, व दिमाग को तेज बनाया जा सकता है,

योगा के फायदे – Benefits of Yoga in hindi

  1. शारीरिक विकाश करना ।
  2. मांसपेशियों को मजबूत बनाना ।
  3. मन को स्थिर करना ।
  4. मानसिक विकाश करना ।
  5. चिंता व तनाव मुक्त करना ।
  6. शरीर को संतुलित करना ।
  7. वजन बढाने या घटाने में मदद करना ।
  8. बीमारी मुक्त करना ।
  9. हाईट बढाना ।
  10. पाचन क्रिया मजबूत करना (इत्यादि)

योग के प्रकार (Types of Yoga in Hindi)

योग शरीर के अंगों के अनुसार कई प्रकार के होते है, और सभी योग का अपना-अपना महत्व होता है, योग क्रिया का नियमित रुप से अपने दिनचर्या मे उतारना आपको सुखमय व स्वस्थ जीवन प्रदान कर सकता है- योगा के प्रकार जैसे-

योगा के प्रकार (Types of Yoga in Hindi)

  1. चक्रासन
  2. हलासन
  3. शिर्शासन
  4. तडासन
  5. अनुलोम-विलोम
  6. प्राणायाम
  7. सूर्य नमस्कार
  8. नौकासन
  9. गौमुखासन
  10. भ्रामरी प्राणायाम

योगा पर छोटा सा निबंध (Short Essay)
10 Line Essay on Yoga in Hindi

योग एक कार्य है जो की हजारो वर्षो से भारतीय लोगो द्वारा किया जा रहा, योग क्रिया करने से मनुष्य को मानसिक, शारिरीक व आध्यात्मिक लाभ होता है, योग का नियमित अभ्याष करने वाला मनुष्य बलवान व बुध्दिमान होता है।

  1. योग एक क्रिया है जो शरीर को स्वस्थ रखने का कार्य करता है
  2. योग एक क्रिया है जो शरीर के ऊर्जा को एकत्रित करता है
  3. नियमित रुप से योग क्रिया मन को शांत व दिमाग को तेज बनाता है
  4. योग व ध्यान क्रिया से सभी बीमारियों का इलाज सम्भव है  
  5. योग क्रिया के माध्यम से सभी चुनौतियों पर विजय पा सकते है
  6. योग व ध्यान क्रिया जीवन को सफल बनाते है
  7. योग का मुख्य कार्य खुद को स्थिर करना है
  8. योग व ध्यान के माध्यम से सभी जीवों पर विजय पाया जा सकता है
  9. योग प्रकृति का दिया हुआ सबसे बडी औषधि है
  10. योग व ध्यान से जीवन को पूर्ण बनाया जा सकता है
  11. योगा के नियमित अभ्यास से शरीर बलवान बनता है ।

योग अब एक एसी क्रिया बन गई है जो भारतीयो के साथ-साथ अन्य देशो मे भी इसका प्रचलन हो गया है, योग के महत्व को लोग समझ रहे और अपने दिनचर्या मे योगा को शामिल कर रहे,। और 21 जून को विश्व योगा दिवस मनाया जाता है। जिस दिन विश्व भर के लोग योगा करते है, योगा के अधिक जानकारी के लिये- क्लिक करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *