मंत्र: विद्यार्थियों के लिये माँ सरस्वती के चमत्कारी मंत्र व अर्थ | Saraswati mantra for students in Hindi

Saraswati mantra for students: हिंदू संस्कृति मे माँ सरस्वती, विद्या की देवी मानी जाती है अर्थात जो व्यक्ति या विद्यार्थी, सच्चे भाव से माँ सरस्वती की आराधना करता है उसे ज्ञान की प्राप्ति होती है। विद्या के साथ-साथ माँ सरस्वती कला, संगीत, वाणी, बुद्धि और ज्ञान की भी प्रतीक मानी जाती हैं।

इसलिये माँ सरस्वती की प्रतिमा या चित्र को सदा वीणा, व पुस्तको के साथ ही दिखाया जाता है साथ ही भारत के अधिकांश विद्यालयों, कालेजो व अन्य संस्थानों मे माँ सरस्वती की प्रतिमा लगाई जाती है क्योकि माँ सरस्वती विद्या, कला, संगीत, वाणी, बुद्धि और ज्ञान का प्रतीक हैं।

Saraswati mantra for students
Saraswati mantra for students in Hindi

इस संग्रह मे हमने विद्यार्थियों को शिक्षा, पढ़ाई और ज्ञान के क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिये माँ सरस्वती के कई मंत्र व श्लोको का संग्रह किया हैं आइये विद्यार्थियों के लिये माँ सरस्वती के चमत्कारी मंत्र (Saraswati mantra for students) व अर्थ जाने।

विद्यार्थियों के लिये माँ सरस्वती के मंत्र (Saraswati mantra for students)

सरस्वति नमस्तुभ्यं वरदे कामरूपिणि ।
विद्यारम्भं करिष्यामि सिद्धिर्भवतु मे सदा ॥

अर्थ – हे माँ सरस्वती विद्या व ज्ञान प्राप्त करने के लिये मै आपक आह्वाहन करता हू, आप सबकी मनोकामना पूर्ण करने वाली माता है, मै आपको प्रणाम करता हूँ। और मैं विद्या ग्रहण करना आरम्भ कर रहा हूँ, मुझे ज्ञान की प्राप्ति हो माँ, एवं मुझे इस कार्य में सफलता मिले।

Saraswati mantra for students

या देवी सर्वभूतेषु विद्यारूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।

अर्थ – हे माँ सरस्वती आप सभी प्राणियों में तेज, दिव्यज्योति, उर्जा व शक्ति के रूप में विद्यमान हैं, आप ही सभी को विद्या, कला, संगीत, वाणी और बुद्धि मे दक्ष करती है मै आपको नमस्कार करता हू और मै आपको बारम्बार नमस्कार करता है। – श्री गणेश स्तुति मंत्र

सरस्वति महाभागे विद्ये कमललोचने ।
विद्यारूपे विशालाक्षि विद्यां देहि नमोस्तुते ॥

अर्थ- हे माँ सरस्वती आप महाभाग्यवती, ज्ञानरूपा कमल के समान अद्भुद नेत्र वाली, ज्ञानदात्री (ज्ञान देने वाली) है। हे मां मुझे विद्या दो, मैं आपको प्रणाम करता हूँ। और बारम्बार प्रणाम करता हू।

ॐ सरस्वती मया दृष्ट्वा, वीणा पुस्तक धारणीम्।
हंस वाहिनी समायुक्ता मां विद्या दान करोतु में ॐ।।

अर्थ– हे विद्या की देवी, वीणा और पुस्तक धारण करने वाली व हंस वाहिनी माँ सरस्वती मुझे दर्शन दो और मुझे विद्या का दान करों मां, ताकि मैं उन्नति प्राप्त कर सकूं,

(उपर्युक्त दिये गये सभी मंत्रों के माध्यम से व्यक्ति या विद्यार्थी मां सरस्वती से विद्या, कला, संगीत और ज्ञान की प्राप्ति की प्रार्थना कर रहा है)

ॐ सरस्वती नमस्तुभ्यं वरदे कामरुपिणि
विद्यारंबम करिष्यामि सिद्धिर बावतुमे सधा ।।

Saraswati mantra for students

ॐ सरस्वती माया दृष्टिवा, वीणा पुस्तक धरनिं
हंस वाहिनी संयुक्ता, मम विद्यादान करोतु में उम“

Saraswati mantra for students
विद्या प्राप्ति का मंत्र ॐ महाविद्यायै नम: |
ज्ञान/योगा के लिये मंत्रॐ ज्ञानमुद्रायै नम: |
विद्या प्राप्ति का मंत्र ॐ वाग्देव्यै नम: |
महासरस्वती मंत्रॐ ऐं महासरस्वत्यै नमः |
माँ सरस्वती मंत्र ॐ ऐं ह्रीं श्रीं वाग्देव्यै सरस्वत्यै नमः ।
Saraswati mantra for students in Hindi

माँ सरस्वती के मंत्र का जाप विद्यार्थी कब करें? (Saraswati mantra Jap for students)

सभी मंत्रों के जाप का उचित समय प्रात: काल अर्थात सुबह का समय शुभ माना जाता है, लेकिन विद्यार्थी माँ सरस्वती के मंत्रो का जाप सुबह के अलावा जब पढाई शुरु करे, तब भी कर सकते है। माँ सरस्वती के मंत्रो का जाप करने से मन स्थिर होता है जिससे विद्यार्थी अधिक ध्यान के साथ ज्ञान की प्राप्ति कर पाते है।

माँ सरस्वती के मंत्रो का जाप करने के लिये विद्यार्थी अपने नित्य कर्म व स्नान करके माँ सरस्वती के प्रतिमा या अपने बैग व पुस्तकों की पूजा कर सकते है विद्यार्थी माँ सरस्वती के इन मंत्रो का जाप अपने दैनिक जीवन मे उपयोग कर सकते है इसके लिये पुस्तको के समक्ष बैठकर, पूरे श्रध्दाभाव से माँ के मंत्रो का जाप करें। अगर विद्यार्थी को मंत्र नही याद हो रहे है तो वो देख के भी जाप कर सकता है साथ ही वो बिना मंत्र के अर्थात माँ सरस्वती से अपने शब्दो मे विद्या प्राप्ति का अनुग्रह भी कर सकता है।

[quiz-cat id=”12721″]

माँ सरस्वती के मंत्र का जाप करने के फायदे

  • माँ सरस्वती के मंत्रो का जाप करने से ज्ञान की प्राप्ति होती है।
  • माँ सरस्वती के मंत्रों का जाप करने से मानसिक व शारीरिक विकास होता है।
  • माँ सरस्वती की स्तुति करने से हमारे बुध्दि का विकास होता है।
  • माँ सरस्वती की स्तुति करने से विद्यार्थियों को उनकी शिक्षा, परीक्षाओं, और प्रतियोगिताओं में सफलता मिलती है।
  • इन मंत्रो का जाप करने से सोचने की क्षमता वृध्दि होती है।
  • इन मंत्रों का जाप करने से विद्यार्थियों की कला, संगीत और बुध्दि के विकास मे मदद मिलती है।
  • इन मंत्रो का जाप करने विद्यार्थियों का आत्मविश्वास बढ़ सकता है और वो कृतज्ञता व सेवाभाव से विकसित होते है।

निष्कर्ष– मां सरस्वती विद्या व ज्ञान की देवी है इन्हे हिंदू धर्म की प्रमुख देवियों मे से एक माना जाता है आज हमने इस संग्रह मे विद्यार्थियों को ज्ञान प्राप्ति मे सहायता प्रदान करने वाली, मां सरस्वती के मंत्रो (Saraswati mantra for students) को देखा, यह संग्रह आपके लिये कितना उपयोगी रहा कमेंट मे हमे जरुर बताए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top