मौत शायरी । Maut Shayari

खो कर तुम मुझे पा ना सकोगे।
हम वहाँ मिलेंगे जहाँ, तुम आ ना सकोगे।

Maut Shayari

जहाँ उम्मिदे खत्म हो जाती है।
वहाँ शिकायत भी नही रहती

Read More>>>
मौत शायरी । Maut Shayari

अब तुम जान भी मागोगे तो, दो बार सोचुंगा।
बिना सोचे दिल दे चुका हू एक बार,

Read More>>

उतार लिजिये पंखा मेरे कमरे से।
फिर ना कहियेगा, कायर था मै

मौत शायरी । Maut Shayari

बहुत ही अजीब लोग थे, जिनसे मेरे गिले रहे।
वो मेरे भी साथ थे, लेकिन औरो से भी मिले रहे ।

मेरी कहाँनी सून कर समझ सको।
इतना आंसू कहाँ है तुम्हारे पास्॥

Read More>>
say boy

थोडा सा दूर करके तो देखो।
नई सी लगेगी, जिंदगी ही तो है॥

नीद की गोलिया खाता है वो शख्स
जो तेरी आवाज सूनकर सोता था।

death shayari in Hindi

मौत शायरी । Maut Shayari

बताने की बात तो नही है।
बताने दोगी क्या
इश्क बेपनाह है तुमसे
जताने दोगी क्या

वह तो बुरा ही था, जिसने सच्चा प्यार किया।
तुमने कब अच्छा बनने की कोशिश की।

कभी भी किसी इंशान पर इतना घमण्ड ना करना की वो मेरा है।
मैंने भी किया टूट गया। – सच्चा प्रित
Read More>>

ना कोई हमारा है, ना किसी के हम्
बस खुदा हमारा है, और उसी के हम

marne wali shayari

डरने लगे है मा-बाप भी कुछ कहने से।
ये नई नस्ल पंखे से जल्दी लटक जाती है॥

मौत शायरी । Maut Shayari

नही लगता की, मै जीवित हू।
मेरी आत्मा तुम्हारे साथ चली गई।

हर व्यक्ति रोना चाहता है।
अपने सच्चे प्यार की गोदी मे

जितने दिन चल गई, उतनी ही जिंदगी
मिट्टी के गुल्लक की कोई उम्र नही होती

ishk sayari hindi

जो थोडा सा भी किसी और का है।
वो मुझे जरा सा भी नही चाहिये।

बहुत कोशिश की खुद को, मजबूत बनाने की।
फिर भी आंख से आंसू निकल ही जाते है।

एक जवाब चाहिये था जनाब,।
दिल तोडा है, एक बेवफा ने,
अब जान दू या जाने दू

जरुर पढे

Note- कृपया ध्यान— मृत्यु किसी भी प्रश्न का हल नही, यह मात्र कायरता है, अपने जिम्मेदारीयो से पीछे हटने का, खुद को कमजोर समझने का, । इसे आप को स्वय समझना होगा की जीवन किसी विशेष रिश्ते के लिये नही बना है। अगर आप प्रेम मे धोखा खाने की वजह से इस लेख पर पहुचे है, तो , एक बार अवश्य अपने मन से पूछे, दुनिया का सबसे प्यारा रिश्ता मा का होता है, जब मा का निश्चित समय पर मृत्यु हो जाता है, तो कोई अपने मा के लिये इतना बडा फैसला नही लेता की, मा बिना नही रहना, इत्यादि,

जिसने आप को जन्म दिया, जब उसके बिना आप रहना सीख गये है तो, एक मामूली स्त्री के लिये इतना बडा फैसला लेना, नासमझी नही तो और क्या है।

खुद को सम्हाले और नये जीवन की शुरुआत करे, दुनिया बहुत बडी है, और इस दुनिया मे हर वक्त अद्भुद कार्य होते रहते है, उम्मिद है अब से उस कार्य के सहभागी होंगे। इतना प्रेरणादायक लेख से भी अगर आप अपने विचार पर अटल है तो, हमे आप से थोडा समय चाहिये, मै चाहता हु, आप मेरे साथ जुडे और बेझिझक अपने प्रश्नो का जवाब पाये join now