नैतिक शिक्षा

संस्कारी व्यक्तियों मे होती है ये 10 खूबिया, संस्कार की परिभाषा, फायदे, महत्व व गुण जाने।

संस्कार व्यक्ति का वह आन्तरिक गुण है जिससे समाज मे उसकी पहचाना की जाती है। यह कई नैतिक गुणो जैसे – बोली भाषा, व्यवहार, कर्म, सकारात्मक विचार आदि नैतिक गुणों का समावेश होता है और इन्ही नैतिक गुणों को मिलकर एक सुखी, समृध्द व संस्कारी व्याक्तित्व का निर्माण है। संस्कारी व्यक्ति अन्य व्यक्तियों के मुकाबले …

संस्कारी व्यक्तियों मे होती है ये 10 खूबिया, संस्कार की परिभाषा, फायदे, महत्व व गुण जाने। Read More »

दिमाग को शांत कैसे करें | Dimag ko Shant Kaise Rakhe

दिमाग / माइंड या मस्तिष्क को शांत कैसे रखे – Dimag ko Shant Kaise Rakhe दिमाग को शांत करना अर्थात जीवन को व्यवस्थित व खुशहाल करना है। मानव सभ्यता की उत्पत्ति जबसे हुई है, तभी से मनुष्य अपने जीवन को सुव्यवस्थित व क्रमबध्द रुप से चलाने का प्रयास करे रहा है। हालाकि यह प्रक्रिया सभी …

दिमाग को शांत कैसे करें | Dimag ko Shant Kaise Rakhe Read More »

स्वामी विवेकानंद की 3 प्रेरित कहानियां । Swami Vivekananda Life Story in Hindi

Swami Vivekananda Life Story in Hindi स्वामी विवेकानंद जी अपनी सूझबूझ व बुद्धि से आज पूरी दुनिया में जाने जाते हैं। इनका वास्तविक नाम नरेंद्रनाथ दत्त है, एवं इनका जन्म 12 जनवरी 1863 मे भारत के कोलकाता शहर मे हुआ था। ये बचपन से ही आध्यात्मिक विचार धारा के थे। इन्होने अपने वाणी व उपदेशों …

स्वामी विवेकानंद की 3 प्रेरित कहानियां । Swami Vivekananda Life Story in Hindi Read More »

Good Habits: अच्छी आदतें अपनायें, खुशहाल जीवन पाये | Good Habits for Happy & Success Life in Hindi

जीवन का निर्माण विचारों से होता है, और विचारों से ही आदत जन्म लेती है, आप के जैसे विचार होंगे, वैसे ही आपकी आदत होगी, इसी कारण से किसी के पास अच्छी आदत तो, किसी के पास बुरी आदत होती है। ऐसे मे यह सवाल जरुर उत्पन्न होगा की अच्छी आदत पाने के लिये, कैसे …

Good Habits: अच्छी आदतें अपनायें, खुशहाल जीवन पाये | Good Habits for Happy & Success Life in Hindi Read More »

Communication Skill: बात करने का तरीका सीखें | Learn Communication Skills in Hindi

Communication Skills: जिन लोगो मे बात करने का तरीका सही होता है समाज मे उनका मान-सम्मान अन्य लोगो के अपेक्षा अधिक होता है, और इस शैली की सहायता से वो कठिन से कठिन कार्य को भी सरलता पूर्वक करने मे सक्षम होते है। आचरण पूर्ण शब्द व धीमी आवाज मे बात करना उनका मुख्य ढंग …

Communication Skill: बात करने का तरीका सीखें | Learn Communication Skills in Hindi Read More »

साम-दाम-दण्ड-भेद का अर्थ । Saam Daam Dand Bhed

Saam Daam Dand Bhed: साम दाम दण्ड भेद एक ऐसी कूटनीति है। जिसकी सहायता से आप किसी भी व्यक्ती से मनचाहा कार्य करा सकते है। या किसी भी कार्य को अपने अनुकूल कर या करवा सकते है , इस कूटनीती विद्या का उपयोग सर्वप्रथम भारत के महान कूटनीतिज्ञ कौटिल्य चाणक्य जी ने किया था। साम …

साम-दाम-दण्ड-भेद का अर्थ । Saam Daam Dand Bhed Read More »

UPSC परीक्षा का सेलेबस ?। UPSC Syllabus in Hindi 2022

UPSC परीक्षा पास करना सभी युवाओं का सपना होता है, ये परीक्षा भारत के सबसे कठिन परीक्षाओं मे से एक है। इस परीक्षा मे पास होने के लिये विद्यार्थी को 3 अलग-अलग परिक्षाये देनी पडती है, जिन्हें, प्रारम्भिक परीक्षा (Prelims Exam), मुख्य परीक्षा (Mains Exam), साक्षात्कार परीक्षा (Interview Exam) के नाम से जानते है| किसी …

UPSC परीक्षा का सेलेबस ?। UPSC Syllabus in Hindi 2022 Read More »

मेरे विद्यालय पर निबंध | My School Essay in Hindi

मेरे स्कूल। विद्यालय या पाठशाला पर निबंध – My School Essay in Hindi जीवन की शुरुआत शिक्षा से होती है, और हमारा पहला शिक्षार्थी हमारे माता-पिता होते है, जो की बचपन मे ही शिक्षा देना प्रारम्भ कर देते है, माता-पिता के बाद विद्यालय की शिक्षा शुरु होती है, इस लेख मे हम “मेरे विद्यालय पर …

मेरे विद्यालय पर निबंध | My School Essay in Hindi Read More »

प्रार्थना विद्यालय के लिये । School Prayer in Hindi

ईश्वर की प्रार्थना से ही, मन स्थिर होता है, जिसके कारण हम पढाई मे ज्यादा ध्यान लगा पाते है, शिक्षा सम्पूर्ण जीवन का मूल आधार है,। इस लेख मे हम भारत के ज्यादातर विद्यालयो मे होने वाले प्रार्थना पर नजर डालेंगे। जैसे- 1. इतनी शक्ति हमे दे न दाता 2. वह शक्ति हमे दो दयानिधे …

प्रार्थना विद्यालय के लिये । School Prayer in Hindi Read More »

मेरा प्रिय त्योहार (होली-दिवाली-रक्षाबंधन) पर निबंध-My Favourite Festival Diwali-Holi-Raksha Bandhan Essay in Hindi

My Favourite Festival Diwali-Holi-Raksha Bandhan Essay in Hindi सभी त्योहार बच्चो का प्रिय त्योहार होता है, चाहे वो दिवाली के पटाखे हो या होली के गुलाल, बच्चे हर त्योहार को बडे धूम-धाम से मनाते है। हर त्योहार का इंतजार बेसब्री से करते है, मुख्य रुप से बच्चो को ऐसे त्योहार पसंद आते है, जहाँ वो …

मेरा प्रिय त्योहार (होली-दिवाली-रक्षाबंधन) पर निबंध-My Favourite Festival Diwali-Holi-Raksha Bandhan Essay in Hindi Read More »