सुबह कितने बजे उठना चाहिये | Subah kitane baje uthe

सुबह जल्दी उठने के अपने ही फायदे है , अगर आप सुबह प्रात: काल उठते है तो, आप तन- मन दोनो स्वस्थ्य रहेंगे , इस बात को धर्म व विज्ञान दोनो मानते है , विज्ञान व धर्म के अनुसार सुबह 3 से 4 बजे उठने का समय सबसे अच्छा समय होता है

सुबह कितने बजे उठना चाहिये
सुबह कितने बजे उठना चाहिये

Subah kab uthana chahiye : सुबह कब उठना चाहिए ?

सुबह कितने बजे उठे ? इस प्रश्न का उत्तर लोगों के अनुसार अलग-अलग हो सकता है , लेकिन विज्ञान और धार्मिक के अनुसार ३ से ४ का समय सबसे उच्चतम समय माना जाता है ,

लेकिन सुबह का उठना आप के उम्र पर भी निर्भर कर सकता है अगर आप युवा है और एक उज्ज्वल भविष्य की कामना करते है तो आप को इस समय का जरूर पालन करना चाहिये, ये समय आप को अपनी मंजिल तक पहुंचने में कारगर साबित हो सकता है क्या जीवन एक संघर्ष है

subah uthane par aalas mahasoos kyu hota hai : सुबह आलस महसूस होना

अगर सुबह उठकर कमजोर या नीद न पुरी होना जैसे समस्या को झेल रहे है तो सबसे पहले आप को अपने दिनचर्या मे बदलाव करने की जरुरत है। आप अपने दिनचर्या को इस प्रकार से भी शुरु कर सकते है सुबह उठकर ईश्वर की प्रार्थना करे ‌‌

सुबह उठ कर सबसे पहले अपने ईश्वर को धन्यवाद दे ,आप धन्यवाद कुछ इस प्रकार भी दे सकते है ,

धन्यवाद प्रभु

मुझे एक प्यारी सी सुबह और अच्छी जिंदगी देने के लिये

हे प्रभु मेरे अंदर से नकारात्मक विचारो को बाहर कर

मुझे सकारात्मक विचारो से भर दे ! मुझे अपने हर काम में सफल बना ,मुझे विश्वास है तु मेरे साथ है , धन्यवाद प्रभु

आप इस प्रार्थना को सुबह उठने के बाद और शाम को सोने से पहले कर सकते है, आप देखेंगे की आप के अंदर एक अलौकिक ऊर्जा महसूस होगी , उसके बाद आप अपना सामान्य काम कुछ भी कर सकते है

सुबह उठ कर क्या करे, क्या न करें

ऐसा काम न करें जिससे आप को बाद में पश्चाताप हो,या पश्चाताप करना पडे, अगर आप अपनी दिनचर्या पहले से बना चुके है तो आप पहले अपने दिनचर्या के अनुसार काम करें फिर कोई और काम,

ईश्वर को धन्यवाद दे, अपने दिनचर्या पे एक नजर डाले ,दिनचर्या के अनुसार काम चालू करें ,जो काम जरूरी हो पहले उसे करें

rat ko jagana chahiye ya nahi (रात को जागना चाहिये या नहीं )

सुबह कितने बजे उठना चाहिये
सुबह कितने बजे उठना चाहिये

रात को जागना चाहिये या नहीं चाहिये इस बात पर निर्भर करता है की आप किस लिये जाग रहे है आप के जागने की आवश्यकता क्या है क्योंकि रात को तीन लोग ही जागते है rat ko jagana chahiye ya nahi इन तीन बातो पर निर्भर करता है

रोगी – रोगी इसलिये जागता है क्योंकि वो सो नहीं पाता , मजबूर होता है

भोगी – भोगी इसलिये जागता है क्योंकि वह अपने काम को दिन रात करता है, वह शरीर की चिंता न करके, अपने मोह माया में फस कर ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने में वक्त बिता देता है , और तनाव के कारण सो नहीं पाता तनाव कम करने के लिये कुछ नये सुविचार

योगी– योग करने वाला भी साम को नहीं सोता क्योंकि वो समय उसके लिये अनमोल होता है योगी का मतलब सिर्फ साधु बस नहीं, एक योगी को शांति कि जरूरत होती है जो की शाम को ही मिल सकती है, विद्यार्थी योगी के श्रेणी में आते है

रोगी , भोगी, व योगी ये तीनों आप के उत्तर पर निर्भर करता है की आप रात को किसलिये जागते है ,आप खुद से समझ सकते है की रात को आप क्यू जागते है , आप इन तीनों में से कौन है समझ जायेंगे अगर सुबह उठने के फायदे जानना चाहते है

best time to wake up : उठने का सही समय

आप सभी को तो पता है अच्छी नीद सेहत के लिये कितना जरुरी होता , एक आम आदमी को कम से कम 8 घंटे नीद तो लेनी ही चाहिये , क्योकी नीद लेने से हमारा शरीर फ्रेश हो जाता है लेकिन नीद के साथ – साथ हमे ये भी ध्यान देना होगा की सुबह जल्दी उठे , सुबह जल्दी उठने से हमारे अंदर सकारात्म्क विचार उत्पन्न होता है हम देर उठने के अपेक्षा जल्दी उठने पर खुद को तर्व ताजा महसूस करते है

सुबह 4:00 बजे कैसे उठे : 4 baje kaise uthe

अगर आप सुबह 4:00 बजे उठना या जागना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको सही समय पर सोना पड़ेगा उसके लिए आप अलार्म की मदद ले सकते हैं या फिर अपने पेरेंट्स या गार्जियन को सुबह जगाने को बोलकर कर उठ सकते हैं

अगर आप खुद से 4:00 बजे उठना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने अवचेतन मन से कहना पड़ेगा कि वह आपको 4:00 बजे उठा दे आपके अवचेतन मन के पास इतनी सारी शक्तियां होती हैं जो चाहो आप उससे करवा सकते हो

अगर आप 4:00 बजे उठना चाहते हैं तो यह बात आप अपने अवचेतन मन से कहें, इस बात को आप एक हफ्ते तक करने की कोशिश करें धीरे-धीरे निरंतर प्रयास से वह आपको सही समय पर उठाना प्रारंभ कर देगा, इसके लिए आपको सोने से पहले मन को एकाग्र करके और खुद को खुद से बोलना की हेमंत मुझे 4:00 बजे उठा 4:00 बजे उठाओ इस बात को आप 5 से 10 बार बोले और बिना किसी अलार्म के मन को शांत करके सो जाएं हिसाब एक हफ्ते तक करें आपको रिजल्ट मिलना शुरू हो जाएगा|

tips to wake up early : सुबह जल्दी उठने के नियम

अगर आप सुबह उठने का टिप्स जानना चाहते है तो आप को बता दे आप जब चाहे तब सुबह उठ सकते है ऐसा करने के लिये आप को अपने मन को कमांड देना होगा , जैसे- अगर आप सुबह के 4 या 5 बजे उठना चाहते है तो जब आप सोने जाये तब अपने मन को शांत करे और अपने मन से बोले की वो आप को सुबह 4 बजे उठा दे ।

अगर आप इस क्रिया को निरंतर करते है तो कुछ ही दिनो के बाद आप को अच्छा परिणाम देखने को मिलेगा

हालाकि ऐसा करने से आप के पहले दिन से रिजल्ट नही देख पायेंगे , लेकिन अगर आप नियमित रुप से इसे करते है और अपने दिनचर्या मे योगा व ध्यान जैसे क्रियाकलाप जोडते है तो जल्द ही आप का मन आप के वश मे होगा ।

इसके लिये आप मेरे द्वारा लिखित कुछ अर्टिकल देख सकते है जैसे-

मन को शांत कैसे करे

अवरोधक क्षमता कैसे बढाये

अनुलोम-विलोम के फायदे

ब्रम्हचर्य का महत्व

सुबह कितने बजे उठना चाहिये : आर्टिकल जीवन को बदलने का एक अच्छा माध्यम साबित हो सकता है । अगर आप इसे पूर्णतया पालन करते है तो आप को अच्छा परिणाम मिलेगा —– आप को कही त्रुटी मिले तो क्षमा करे व अपना सुझाव कमेंट मे जरुर बताये

2 thoughts on “सुबह कितने बजे उठना चाहिये | Subah kitane baje uthe”

  1. Pingback: अनुलोम विलोम कैसे करे और इसके क्या - क्या फायदे है स्टेप बाई स्टेप : Anulom Vilom, Steps and Benefits in Hindi - अनंत जीवन.in

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *