मोटिवेशनल स्पीकर कैसे बने । Motivational Speaker kaise bane

Motivational Speaker kaise bane
Motivational Speaker kaise bane

Motivational स्पीकर बनने के लिये आप को बोलने की शैली, शब्दो का भण्डार, व शब्दो मे पकड होना बहुत जरुरी है किसी बात को अच्छे से समझा लेना व किसी के बातो व भावनाओ को अच्छी तरह से समझ लेना Motivational स्पीकर की निशानी है ।

वैसे मोटिवेशनल स्पीकर बनने के लिये आप मे बचपन से ही उसके ग़ुण होने चाहिये , ऐसा नही है की और नौकरियो की तरह इसकी तैयारी की जाय , लेकिन ये बात सच है की कोसीस करने वालो की हार नही होती , अगर आप सच्चे मन से परिश्रम करते है तो एक न एक दिन सफलता आप की कदम जरुर चुमेगी ।

Motivational Speaker kaise bane इसके लिये आप पुरा लेख पढे।

मोटिवेशनल स्पीकर बनने के लिए क्या पढे

मोटिवेशनल स्पीकर बनने के लिए आपको समाज के बारे में जानना होगा , ज्यादातर दिक्कते सामाजिक , परिवारिक व जिंदगी के कारणो से उत्पन्न होती हैं जैसे- सफलता कैसे प्राप्त करे , समाज की सहायता कैसे करे इत्यादि – इसके लिये आप को समाज व अध्यात्म से जुडी पुस्तको का अध्ययन करना पडेगा

ज्यादातर प्रश्रो के हल आप को अध्यात्म की पुस्तको से मिल सकता है जैसे – भगवद गीता , उपनिषद, वेद इत्यादि और अन्य सामाजिक पुस्तके जैसे- सामाजिक विज्ञान , राजनैतिक विज्ञान, समाजशास्त्र इत्यादि विषयो का अध्ययन करना होगा , इससे आप समाज मे हो रहे बदलाओ को आसानी से समझ पायेंगे –

Books For Motivational Speaker

मोटिवेशनल स्पीकर बनने के लिए पढ़ाई करना अनिवार्य है इसके लिये आप कुछ विसेष पुस्तको का अध्ययन कर सकते है जैसे-

भगवद गीता
वेद
उपनिषद
इतिहास
राजनिती
नैतिकशिक्षा
समाजशास्त्र
सामाजिक विज्ञान
नैतिक शिक्षा
फैक्ट्स बाते

इन किताबो के माध्यम से आप लोगो के द्वारा पुछे गये हर प्रश्न का जवाब आसानी से दे सकते है , अगर आप ये सोचते है की मोटिवेशनल स्पीकर बनना आसान है और ज्यादा मेहनत नही करनी पडती है तो आप गलत है , अगर आप एक मोटिवेशनल स्पीकर बनना चाहते है तो आप को पढाई करना अतिआवश्यक है बोलने की शैली , स्टाइल सब मे आप को सुधार लाना होगा।

मोटिवेशनल स्पीकर को अध्यात्म का ज्ञान होना भी बहुत जरुरी है , क्युकी कभी-कभी ऐसे प्रश्नो का सामना करना पड सकता है जिसका जवाब सिर्फ अध्यात्म के पास ही होता है लेकिन कुछ ऐसे प्रश्न भी आ जाते है जिसके जवाब ना तो विज्ञान के पास होता है ना हि अध्यात्म के पास होता है ना हि अन्य पुस्तको मे ।

ऐसे मे आप को अपने मन व दिमाक की सहायता से अध्यात्म व विज्ञान को टटोल कर जवाब देना होगा , जो की निरंतर प्रयास से सम्भव है इसलिये पुस्तको को पढना व समझना आसान है जो निम्न है

भगवत गीता

अगर आप भगवत गीता का अध्य्यन करते है तो आप धर्म , जीवन, आस्था , योगा , ध्यान , मनोबल, आत्मशक्ती , आत्मसम्पर्ण , मित्रता इत्यादि जैसे विषयो को गहराई तक जान पायेंगे , हालाकि की इसको जानने के कई स्त्रोत है लेकिन भगवत गीता जो हिंदुयो का धार्मिक ग्रंथ है , जहाँ पर श्री कृष्ण ने अर्जुन को विस्तार से बताया है ,

भगवत गीता मे आप को चौपाई व व्याख्या दोनो रुपो मे वाक्य संग्रह मिल जायेगा , आप को बता दु आज तक विज्ञान ने भी भगवत गीता को झूठ नही ठहरा पाया है , जबकी विज्ञान भी धीरे – धीरे हिंदू ग्रंथ भगवत गीता की ओर बढ रहा , इस पुस्तक मे लिखी सभी बाते सत-प्रतिशत सत्य है , जिसे विज्ञान भी मानता है

अगर आप सम्पूर्ण व खुशहाल जीवन जीना चाहते है तो भगवत गीता , वेद व उपनिषद आप को जरुर पढने चाहिये ,

इतिहास

इतिहास जैसे विषय पूर्ण तरीके से ज्ञान से भरे होते है ,इनको पढने के बाद हम आशानी से समझ सकते है की हमारा पिछला इतिहास क्या था , इतिहास मे पुरे विश्व का अतित छुपा होता है , इसे पढने के बाद हम जान सकते है की पहले हम क्या थे और अब क्या है , हम किस स्थान पे है , इतिहास विजय और हार , अच्छाई व बुराई , जैसे हर प्रकार के वाक्यो से भरा होता है ।

इतिहास पढ कर हम अपने पिछले कर्मो को और अच्छी व बेहतरीन ढंग से कर सकते है ,

नैतिकशिक्षा

नैतिकशिक्षा खुद मे ही सम्पूर्ण शब्द है जिसका आशय है की समाज की शिक्षा , संस्कार की शिक्षा , व्योहार की शिक्षा , इत्यदि , अब के स्कूलो मे नैतिकशिक्षा की किताबे नही पढाई जाती है , लेकिन पहले के स्कूलो मे नैतिकशिक्षा नाम से एक पूर्ण विषय चलता था जहाँ पे बच्चो को नैतिक ज्ञान दिया जाता था , ये प्रश्न आप अपने दादा या नाना जी पूछ सकते की , उन लोगो ने जरुर इस पुस्तक को पढा होगा

मोटिवेशनल स्पीकर कोर्स

Motivational Speaker kaise bane

इसके लिये आप को कोर्स नही करना पडता है लेकिन पढाई जरुर करनी पडती , अगर आप उपर के शब्दो को पढा होगा तो आप समझ गये होंगे की मोटिवेशनल स्पीकर बनने के लिये किसी विषेस पढाई या कोर्स की जरुरत नही पढती , बल्की इसके लिये आप को मेंटली व शारिरिक दोनो रुपो मे स्वस्थ रहना है

इसके लिये आप कुछ नियमो का पालन कर सकते है जैसे-

सकारात्मक विचार रखे
अध्यात्म और मन को शांत व प्रेरित करने वाले पुस्तके पढे
योगा , ध्यान जैसे क्रियाकलाप को दिनचर्या मे अपनाये
बोलने की शैली सीखे
समाज मे उठ रहे सवालो को , मन मे सोल्व करते रहे
खुद को प्रेरित करना सिखे
जहाँ सम्भव हो , लोगो को प्रेरणा अवश्य दे

Top 10 Motivational Speaker in India

भारत के कुछ ऐसे मोटिवेशनल स्पीकर है जो कई वर्षो से अपने प्रेरणादायक विचारो से लोगो को प्रेरित करते आये है और आज वो उस शिखर पर पहुच गये जहाँ पे लोग उनको अपना सबकुछ मानते है , लोगो ने उन्हे गुरु, भगवान , तक का दर्जा दे दिया है ,अब आप के मन मे ख्याल आ रहा होगा – Motivational Speaker kaise bane, आप सभी Top 10 मोटिवेशनल स्पीकर के जीवन परिचय पढे ।

Best Motivational Speaker in India

डा० विवेक विंद्रा
संदीप महेश्वरी
सोनू सर्मा
हिमेश मदन
उज्ज्वल पटानी
प्रिया कुमार
डा० दीपक चोपडा
शिव खेर
Simerjeet Singh
T S madan

डा० विवेक विंद्रा

डा० विवेक बिंद्रा को कौन नही जानता ये ऐसे मोटिवेशनल स्पीकर है जो अपने बोलने के स्टाइल से जाने जाते है इनके बोलने के स्टाइल पे सब फिदा है , इनके समझाने का तरीका एक अलग लेवल का होता है

ज्यदातर विवेक सर बिजनेस आइडिया , जैसे विषयो पर जोर देते है उनका मानना है की जिन लोगो के पास अभी तक कुछ करने को काम नही, नौकरी तलाश मे इधर – उधर भटक रहे है , अपने परिवार का पालन नही कर पा रहे , उनको कम पैसे मे बिजनेस मैंन कैसे बनाया जाय।

इसके लिये वो कई राज्यो , शहरो , व देशो तक मे अपना प्रदर्शन कर चुके है , और इनके इस प्रकार व्योहार से ये मिलीयंस युवायो के दिल पे राज करते है , अगर आप इनके बारे मे और जानना चाहते है तो आप विवेक बिंद्रा सर के ओफिसियल यूट्युब चैनल पे जाके देख सकते है

Dr. Vivek Bindra सर के यूट्यूब जैनल पर 17.1M Subscribers है

1 thought on “मोटिवेशनल स्पीकर कैसे बने । Motivational Speaker kaise bane”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *