15 अगस्त पर निबंध । 15 August Essay in Hindi

15 अगस्त पर निबंध1

15 अगस्त 1947 को हमारा भारत आजाद हुआ था यह हमारे देश के लिये बहुत भाग्यशाली दिन है क्योकी इसी दिन हम लोगो ने अग्रेजो से जिसने हम लोगो पर 200 वर्षो तक राज किया उनसे आजादी पाये थे

भारत को आजदी दिलाने मे हमारे स्वतंत्रता सेनानीयो जैसे – भगत सिह, मंगल पांडे, सुभाष चंद्र बोस , महात्मा गांधी , रानी लक्ष्मी बाई , इत्यदि अपनी जाने गवा दी. स्वतंत्रता सेनानीयो और भारत के लोगो के कठिन परिश्रम के बाद हमारा भारत आजद हुआ,

15 अगस्त को देश के आजादी के खुसी मे पुरे भारत मे खुशी का माहौल रहता है इस दिन हमारे देश की राजधानी नई दिल्ली के लाल किला पर हमारे देश के प्रधानमंत्री झण्डा फहराते है और राष्ट्रगान गाया जाता है , देश के सम्मान के लिये सिर्फ लालकिला पर ही झण्डा नही फहराया जाता , बल्की पुरे भारत मे देशप्रेमियो के द्वारा झण्डा फहराया जाता है जैसे – स्कूलो मे सरकारी कार्यालयो, कालेजो मे , संस्था मे इत्यादि

इस दिन सभी स्कूलो मे प्रोग्राम रखा जाता है जहा पे बच्चे ,टिचर , आये हुये अतिथि के द्वारा 15 अगस्त पर स्पीच दिया जाता है , देश के आजादी के बारे मे बताया जाता है और बच्चो को मिठाई बाटी जाती है

हमारे देश मे देशप्रेमियो की कमी नही है , इस दिन आप देखेंगे की लोग अपने कपडो , बाइको , कार , जहाँ भी हो सकता है वहा झण्डा लगाये दिखते है क्योकी वो अपने देश से प्यार ही बहुत करते है

15 अगस्त पर निबंध
15 अगस्त पर निबंध

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

15 अगस्त पर निबंध -2

हमारा भारत 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रत हुआ था , इस लिये इसका नाम स्वतंत्रता दिवस पडा , भारत को स्वतंत्रता दिलाने मे हमारे अनेको स्वतंत्रता सेनानीयो को बलिदान देना पडा ,

और उनके बलिदान की वजह से आज हम स्वतंत्रत है , स्वतंत्रता की खुसी मे हर साल 15 अगस्त को देश के प्रधान मंत्री द्वारा लालकिला पर झण्डा रोहण किया जाता है , और स्कूलो , सरकारी कार्यालयो , सभी जगह झण्डा फहराया जाता है और बच्चो और लोगो के द्वारा आजादी पर निबंध ,गाने ,डयलौक बोले जाते है

जैसे – वो जिंदगी ही क्या, जिसमे देश भक्ती ना हो
और वो मौत ही क्या जो तिरंगे मे ना लिपटी हो

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान है
सर हमेशा उंचा रखना इसका
जब तक दिल मे जान है

इसके साथ – साथ स्कूलो मे बच्चो के द्वाड डांस , स्टंट , नाट्क , इत्यादि दिखाया जाता है जो की देश भक्ती पर समर्पित रहता है , हमारे भारतवर्ष मे देश प्रेमीयो की कमी नही है , आप 15 अगस्त के दिन लोगो को पुरे झण्डे के रंग से रंगे देखेंगे जैसे- ,कपडे , टोपी ,साइकल ,बाइक , कार , घर , इत्यादि इस दिन आप को हर जगह सिर्फ तिरंगे ही तिरंगे दिखाई देते है , जिससे लोगो को देश के प्रति और प्यार उमड आता है

प्रेरणादायक कहाँनी पढे

15 अगस्त पर निबंध
15 अगस्त पर निबंध

15 अगस्त पर भाषण

आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक सुभकामनाये !

जैसा की आप सब जानते है आज के दिन ही हमारा भारत देश अग्रेजो से आजादी पाई थी हम लोगो ने 200 सालो से अग्रेजो के गुलाम थे , लेकिन कहते है जब कुछ गलत हो रहा हो तो ,कोई न कोई भगवान के रूप मे जन्म लेता है , वैसे ही जन्म हुआ था महान योध्या भगत सिह का , सुभाषचंद्र बोस का , महात्मा गांधी का , रानी लक्ष्मी बाई का , ऐसे बहुत सारे स्वतंत्रता सेनानी है जिसने अपने मातृभूमि के लिये बलिदान दे दिया ।

और अपने देश को अग्रेजो से आजादी दिलाई , पहले हमारे देश की कोइ गिनती नही थी, ना हमारा कोइ झण्डा था , ना हमारा कोइ राष्ट्रगान थ , बस अग्रेजो का गुलामी करना पडता था , लेकिन आज हम सब इस मुकाम पर है की पुरी दुनिया हमपे गर्व करती है , हमे अपने देश पे गर्व है , हमे अपने मातृभूमि पे गर्व है , हमे अपने स्वतंत्रता सेनानियो पे गर्व है जिसने हमे आजादी दिलाई । प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए पत्र लेखन कैसे लिखे

हम अपने शहिदो के कारण आज यहाँ उपस्थित है हम अपने शहिदो को नमन करते है , और आखरी शब्द अपने शहिदो के लिये ,, हम सब आप के बलिदान को मरते दम तक नही भुलेंगे , अगर हमे अपने देश के लिये बलिदान भी होना पडे तो कोई गम नही , हम रहे या ना रहे हमारा देश रहना चाहिये ।

जय हिंद- जय भारत

15 अगस्त

अनंत जीवन – मे आप का सुझाव :-आप को दिये गये 15 अगस्त पर निबंध और भाषण अच्छा लगा हो तो , हमे अपनी राय जरुर दे , हम आप के सुझाव का इंतजार करेंगे ,और इस पोस्ट को शेयर करना ना भूले ,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *