शिक्षा का महत्व, निबंध, भाषण। Shiksha ka Mahatva

 शिक्षा का महत्व-शिक्षा पर निबंध-शिक्षा पर भाषण  

शिक्षा के माध्यम से ही किसी देश या राष्ट्र का विकाश सम्भव है,इसलिये शिक्षा को महत्व देना किसी राष्ट्र के सरकार का मुख्य उद्देश्य होना चाहिये ,  शिक्षा के माध्यम से ही जीवन को एक नई दिशा दिखाई जा सकती है और जीवन को बेहतर से बेहतर बना कर सफलता प्राप्त किया जा सकता है,

यह एक ऐसा माध्यम है जिससे हम अपने जीवन को सम्पूर्ण बना सकते है सम्पूर्ण जीवन का अर्थ- सुखद जीवन के लिये जितने भी स्रोत होते है उनको आसानी से प्राप्त कर लेना।

शिक्षा का महत्व

पढाई क्यू जरुरी है : एक मानव को खुद को पहचानने में सारी उम्र बीत जाती है और वो फिर भी खुद को नहीं जान पाता है खुद को पहचानने का एक ही तारिका है पढाइ और सकारात्मक विचार , जिसके माध्यम से आप एक ऐसे पथ का निर्माण कर सकते है जिसपे लोग चलकर अपने मंजिल तक आसानी से पहुँच सके /

खुद को और दुनिया को जानने के लिये पढाई का बहुत बड़ा योगदान होता है अगर खुद को खुद की निगाह में और समाज के निगाह में बेहतर बनना चाहते है और खुशहाल जिंदगी जीना चाहते है तो पढाई के माध्यम से ही सम्भव है पढाई में बहुत ताकत होती है इसका अंदाजा आप डा० भीम राव अम्बेडकर जी का जीवन परिचय पढ सकते है , जिन्होंने संविधान लिखकर  भारत को एक नई दिशा दिखाई है अब आप समझ गये होंगे पढाई क्यू जरुरी है new Thoughts

pdai kaise kare-शिक्षा का अर्थ 

शिक्षा का अर्थ सिर्फ नौकरी पाना नहीं होता, बल्कि शिक्षा के माध्यम से हम अपने व समाज को एक नई राह दिखाने का कार्य करते है , एक राष्ट्र के प्रगति के लिये शिक्षा अनिवार्य है ,    

एक देश की छोटी इकाई युवा समाज होता है और युवा समाज को प्रगति के पथ पर लाना, शिक्षा का मुख्य उद्देश्य होना चाहिये , 

शिक्षा का महत्व पर निबंध 500+ शब्द

शिक्षा आखिर होता क्या है पहले हम इस बात को समझेंगे की शिक्षा हम लेते क्यू है , शिक्षा का मतलब ही होता है सीखना , सभ्य , अगर आप शिक्षित है तो आप एक अच्छे इंसान के व्योहार को दर्शाते है । हर जहग वो सम्मान पाते है और गर्व की निहाग से देखे जाते है। study par focus kaise kare

एक शिक्षित व्यक्ति अपने जीवन मे कभी भी असफल नही हो सकता, चाहे हो परिवारिक सफलता हो या परिक्षा की सफलता हो या किसी अन्य प्रकार की सफलता हो , हर जगह वो सफलता प्राप्त करेगा।

इस आधुनिक युग मे शिक्षा के बिना जीवन व्यर्थ है, हर व्यक्ति को शिक्षा लेनी चाहिये चाहे वो किसी भी जाति धर्म या लिंग के हो, शिक्षा हर मनुष्य के लिये उपयोगी है। smart study kaise kare

अगर कोई व्यक्ति अपने जीवन से परेसान है असफल है तो उसका मुख्य कारण शिक्षा ही होता है मनुष्य अगर चाहे तो हर पल कुछ न कुछ सीख सकता है, वो कोई भी माध्यम हो सकता है जैसे कि – अखबार, मोबाइल , पत्रिका, भाषण , इत्यादि

जिस दिन हम सिखना बंद कर देंगे उस दिन से मनुष्य और जानवर मे अंतर नही रह जायेगा, शिक्षा के बीना जीवन व्यर्थ है

Importance of study in Hindi bhashan -भाषण

अपने परिवार को इस तरह सम्हालो की बुढापे मे माता-पिता के चेहरे पे झुर्रियो से ज्यादा मुस्कुराहट झलके , इस के लिये वर्तमान मे आप को मेहनत करना होगा ,एक बात हमेशा याद रखना कोइ भी अपने परिवार के लिये नही पढता , न ही मा बाप चाहते ही है की आप किसी के वजह से अपने स्वस्ठ् और आनंदमय जिंदगी के साथ समझौता करे ,चाहे वो पढाई की वजह हो या कुछ और

उन्हे फिक्र होती है तो सिर्फ आप के खुशी की , उन्हे पता होता है की पढाइ ही ऐशा माध्यम है जिससे आप भविष्य मे खुश रह सकते है ,उसकी शुरुआत बचपन से ही होती है। कुछ मुख्य बाते जिसमे माता-पिता अपने बच्चे को सिखाने के लिये कुछ भी कर सकते है

शिक्षा का महत्व
  • संस्कार
  • पढाई
  • रहन-सहन
  • बोली -भाषा

ये चारो ऐशी चीजे है जिसके वजह से मा – बाप अपने बेटे या बेटियो को खुद से दुर करने के लिये मजबूर हो जाते है , अभी मा बाप पढाइ पर ज्यादा ध्यान देते है क्योंकि पढाई के माध्यम से आप तीनो पा सकते है


इसलिये बच्चो को खुद से दुर हास्टल , बडे शहर , आदि जगहो भेज देते है जिससे पढाइ कर सके इसके अलावा बाकी तीनो (संस्कार,रहन-सहन,बोली -भाषा चिजे खुद पे खुद सिख जाते है जिसमे मा बाप के साये का बहुत बडा योगदान होता है ,लेकिन समाज , दुनिया को देख के लगता है की आने वाली पीढी को चारो चिजे सिखने के लिये बाहर जाना पडेगा ,इसका ये मतलब नही की मा बाप नही सिखा सकते है , बल्की आने वाली पीढी मा बाप के बारे मे विशेष संस्कार नही दिखा पायेगी , कुछ उदाहरण तो आप अपने समाज शायद परिवार, रिश्तेदार मे देख ही सकते हैअब आप समझ गये होंगे पढाई क्यू जरुरी है

आधुनिक युग मे शिक्षा का महत्व

शिक्षा हर युग के लिए महत्व रखता है आधुनिक युग में शिक्षा का महत्व का मतलब है कि कि नए तरीकों से पढ़ाई करना जैसे-इंटरनेट के माध्यम से पढ़ना, इसके कई तरीके हैं जैसे कि,गूगल, फेसबुक, व्हाट्सएप, टेलीग्राम, यूट्यूब,ज़ूम ऐप, लेकिन सबसे अच्छा तरीका इसमें से यूट्यूब है

कुछ लोगों को लगता है कि जितने भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स हैं वह सिर्फ एक दूसरे से बात करने के लिए होते हैं बल्कि ऐसा नहीं , कोरोना काल मे जितनी भी पढाई बच्चो ने की है सबने सोसल मिडिया के माध्यम से की है

आधुनिक युग में शिक्षा लेना काफी सरल हो गया है इसके कई माध्यम है जैसे- यूट्यूब के जरिए फेसबुक के जरिए व्हाट्सएप के जरिए, टेलीग्राम के जरिए ज़ज़ूम ऐप के जरिए, अगर आप ध्यान दिए होंगे तो कोरोना काल में सभी बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई से शिक्षा ग्रहण किये है ऑनलाइन पढ़ाई को ही हम आधुनिक शिक्षा कह सकते है।

आज के समय में शिक्षा बहुत जरूरी हो गया है शिक्षित लोग ही बस शिक्षा को महत्व दे रहे हैं क्योंकि हर जगह शिक्षित व्यक्ति पाए जाते हैं अशिक्षित व्यक्ति की तुलना में शिक्षित व्यक्ति ज्यादा व्यवहार कमाता है अगर आप शिक्षित हैं तो हर जगह आपका सम्मान वह व्यवहार किया जाएगा

शिक्षा लेने के लिए किसी विशेष जाति धर्म या लिंग का होना अनिवार्य नहीं है अगर आप सफलता प्राप्त करते हैं तो हर कैटेगरी के लोग आपका सम्मान करेंगे चाहे वह आपसे बड़े हो या छोटे सफलता पाने के लिए शिक्षा का होना बहुत जरूरी है

आधुनिक युग में शिक्षा लेने के कई माध्यम है जैसे- कंप्यूटर, मोबाइल इस समय आप जिस वेबसाइट पर शिक्षा ले रहे हैं यह आधुनिक युग में शिक्षा देने का कार्य कर रहा है यहां से आप अपने जीवन से जुड़े सवालों को पूछ सकते हैं और उसका उत्तर पा सकते हैं

ऑनलाइन शिक्षा का महत्व

शिक्षा के माध्यम से ही समाज को जागरूक किया जा सकता है इस आधुनिक युग में शिक्षा को दो माध्यमों से प्राप्त किया जा सकता है,

1. ऑनलाइन

2. ऑफलाइन

ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से शिक्षा को अच्छी तरह से ग्रहण किया जा सकता हैं लेकिन किसी आपातकालीन स्थित के कारण ऑफलाइन पढ़ाई मे रुकावटे उत्पन्न होती रहती है जैसे कोरोना , आप का बीमार हो जाने के कारण शिक्षा मे रुकावटे उत्पन्न होती रहती है ऐसे मे आनलाइअन शिक्षा काफी कारगर साबित होगा।

जिससे लोग आनलाइन शिक्षा को महत्व देने लगे है
ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से हम अपने मन के अनुसार अध्यापक को आसानी से खोज लेते हैं वह उनसे ज्ञान प्राप्त कर लेते हैं अब तो ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने के इतने स्रोत हैं कि अच्छे से अच्छे स्कूल व सेंटर फीके पड़ गए हैं ऑनलाइन पढ़ाई आधुनिक युग के लिए काफी कारगर साबित हो रहा।

ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने के माध्यम

ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने के कई माध्यम है , ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने का अर्थ , इंटरनेट से पढाई करने लगाया जाता है , इसके कई स्त्रोत है –

इंटरनेट, गूगल, यूट्यूब , टेलीग्राम, ऑनलाइन कक्षा चलाने वाले ऐप, इत्यादि

ऑफलाइन शिक्षा प्राप्त करने के माध्यम

ऑफलाइन शिक्षा प्राप्त करने के ज्यादा माध्यम नही है , लेकिन जो है कारगर है

जैसे की- स्कूल , कालेज, कोचिंग सेंटर , होम कोचिंग, इंसिट्युट, इत्यादि

ग्रामीण शिक्षा का महत्व

ग्रामीण शब्द का अर्थ “गाव के लोगो” से होता है, ग्रामीण शिक्षा का महत्व ग्रामीण लोगो को शिक्षा देना, व उनके लिये उपयोगी बातो को बताना,

ग्रामीण की इकाई किसानी होती है ऐसे मे ग्रामीणो को किसानी को बढावा देने के लिये उन्हे शिक्षा का महत्व बताना जरुरी है शिक्षा के माध्यम से वो अपने पैदावार को अधिक कर सकते है जैसे – कौन से खाद का उपयोग कब करे, कब खेतो मे बीज डाले, खेतो मे पानी की सिचाई कब करे , इत्यादि बाते

ग्रामीण शिक्षा का महत्व पढाई की शिक्षा से न लागाये , क्युकी पढाई सबके लिये एक समान होता है शहर व ग्रामीण दोनो क्षेत्र मे रहने वाले लोगो के लिये पढाई का महत्व एक ही होता है सम्पूर्ण जीवन जीना , सफलता प्राप्त करना , देश व राष्ट्र के लिये कुछ करना , समाज को आगे ले जाना, इत्यादि

सेल्फ स्टडी कैसे करे ( Self study kaise kare)

शिक्षा ही एक ऐसी प्रक्रिया है जिससे मानवीय जीवन को सरल बना जा सकता है शिक्षा के कारण ही मनुष्य अपने जीवन को एक नई दिशा दे सकता है इस संपूर्ण जीवन में कुछ महत्व है तो वह है संस्कार व शिक्षा शिक्षा व संस्कार ये एक ही सिक्के के दो पहलू हैं

आज के युग में शिक्षा लेने के कई माध्यम है जैसे ऑनलाइन और ऑफलाइन ऑनलाइन माध्यम के भी कई सारे प्रक्रिया है शिक्षा से ही जीवन को सकारात्मक बनाया जा सकता है जीवन का एक मूल शिक्षा व संस्कार को माना जाता है

ऐसे में हमे ये जानना बहुत जरूरी है कि शिक्षा कैसे प्राप्त करे ,और शिक्षा प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका क्या होता है,

अगर हम शिक्षा प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका खोजे तो पाएंगे कि खुद के द्वारा ली गई शिक्षा self study बहुत कारगर होता है,

खुद से पढ़ाई करने का अर्थ है कि अगर आप विद्यालय जाते हो या कोचिंग जाते हो,उन सब के अलावा ,खुद से पढ़ाई करना,,
शिक्षा के दौरान आने वाले प्रश्नों को खुद से सॉल्व करने की कोशिशें करना ,इत्यादि बाते

Importance of self study :अगर आप सेल्फ़ स्टडी करते है तो आप किसी टोपिक को अच्छे से समझ सकते है , सेल्फ स्टडी आप के खुद के क्रियेट किये गये सवालो को समझने मे आसानी होती है

सेल्फ स्टडी के माध्यम से आप चीजो को आसानी से समझ सकते है और किसी को समझा भी सकते है,

Self Study के फायदे

शांती मे पढाई करना ज्यादा फायदेमंद होंता है
सेल्फ स्ट्डी से चीजे ज्यादा क्लियर होती है
सेल्फ स्टडी से आप चीजो को ज्यादा आसानी से समझ सकते है और किसी को समझा भी सकते है
सेल्फ स्टडी , ग्रूप स्टडी से बेहतर होता है
सेल्फ स्टडी आप के कल्पना करने की शक्ती को बढाता है
Self Study benefits

राजनिती विज्ञान की जरुरत : The importance of political science

वैसे तो आप छोटी कक्षा से ही कई विषयो का अध्ययन करने लगते है लेकिन कुछ विषय आप के पसंदीदा विषय बन जाते है जैसे की राजनिती विज्ञान , जीव विज्ञान, मैथ, हिंदी इत्यादि

आज हम importance of political science के विषय के बारे मे जानेगे , राजनिती विज्ञान ज्यादातर वो लोग अध्ययन करते है जिन्हे सामाजिक कार्य करना अच्छा लगता है और वो समाज के लिये कुछ करना चाह्ते है

राजनिती विज्ञान पढने वाले विघार्थी ज्यादातर सामजिक काम करने वाले नौकरी की तैयारी करते है जैसे- सिवील सर्विस की तैयरी , प्रधान पद या उससे उच्च पद कि तैयरी इत्यादि

best way to learn hindi ( हिंदी सीखे ) ‌

अगर आप को हिंदी सीखना है तो आप को हिंदी व्याकरण पर ध्यान देना होगा , इसके लिये आप हिंदी व्याकरण की कोई भी किताब कक्षा 2 से 8 तक ले सकते है , समान्य हिंदी जानने के लिये कक्षा 2 से 8 तक की किताबे पर्याप्त है । learn hindi language

जहा पे आप हिंदी व्याकरण को आसानी से समझ पायेंगे । और आप की हिंदी- पढने, लिखने व बोलने , तीनो मे काफी मददगार साबित होगा । study kaise kare tips



study kaise karte hain

self study kaise kare in hindi

self study kaise kare

2 thoughts on “शिक्षा का महत्व, निबंध, भाषण। Shiksha ka Mahatva”

  1. Pingback: निबंध कैसे लिखे, (संधि विच्छेद)।how to write essay in hindi - अनंत जीवन.in 1

  2. Pingback: स्वामी विवेकानन्द जीवन परिचय । Swami Vivekananda Biography - अनंत जीवन.in

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *